भेड़ों से नेता ने वादा किया कि वे हर भेड़ को एक-एक कम्बल देने जा रहे हैं।


5 महीना ago

भेड़ों से नेता ने वादा किया कि वे हर भेड़ को एक-एक कम्बल देने जा रहे हैं।
भेड़ों का झुण्ड ख़ुशी से झूम उठा ।
उनकी हर्ष ध्वनि से आकाश में चहुंओर मिमियाहट गूंजने लगी

फिर एक मेमने ने धीरे से अपनी माँ से पूछ लिया कि ये नेताजी हमारे कम्बलों के लिए “ऊन” कहाँ से लाने वाले हैं……??

फिर वहां “सन्नाटा” था…..!!!

काश कि ये सवाल लोग
राजनीतिक दलों से पूछते कि कर्ज माफी, फ्री *चावल,गेँहू,चीनी,नमक दूध, घी, मोबाइल फोन, साईकल, लेपटॉप, फ्री बिजली, आदि कहाँ से ला कर देगें…..???


प्रातिक्रिया दे