हींग


12 महीना ago
हींग का स्वाद किसे नहीं अच्छा लगता, उसकी तो महक ही अलग सा महसूस करा देती हैं कि आपको ये चीज़ खानी है. खाने में उसके एक मात्र होनें से खाने का स्वाद ही बदल जाता है. हींग एक ऐसी चीज़ है जो केवल खाने में ही नहीं बल्कि आपके पेट को भी साफ़ रखता है. हींग बहुत से रोगों को खत्म करती है जैसे कि आपके पुट्ठे और दिमाग की बिमारी (मिर्गी, फालिज, लकवा आदि). हींग आपकी आंखों की बिमारी को भी फायदा पहुंचाती है.
हींग का प्रयोग ठंड में ज़रूर करना चाहिए क्योंकि वो गरमी पैदा करती है और आपकी आवाज को भी साफ करती हैं. अगर आप हींग का लेप घी या तेल के साथ अपनी किसी भी चोट और बाई पर लगाते हैं तो बहुत लाभ मिलता है तथा और वहीँ अगर आपने हींग को कान में डाला तो जिन लोगों को कान में आवाज़ ना आने या बहरापन की शिकायत होती है वो दूर हो जाती है.
आजकल हर घर मे कोई न कोई बीमार ज़रूर होता है फिर चाहे वो डायबिटीज, एसिडिटी ,ब्लड प्रेशर और जोड़ो के दर्द का ही मरीज क्यों ना बन जाए. ऐसे में लोग बीमार पड़ते हैं तो अंग्रेज़ी दवा खाने लगते हैं लेकिन ये गलत है वो आपको नुक्सान पहुंचाती है क्योंकि इससे आपकी किडनी पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है. इसलिए आप चाहें तो हींग का प्रयोग करें और खुद को स्वस्थ रखें.इतना ही नहीं वैद्यों का तो यह कहना है कि हींग को उपयोग में लाने से पहले उसे सेंक लेना चाहिए.
*कैसे करना है प्रयोग –* गेंहु के दाने बराबर हींग और 1 गिलास पानी…
सबसे पहले आप 1 गिलास हल्के गुन-गुने पानी में लगभग एक गेंहु के दाने बराबर हींग को पानी में घोल ले, फिर इसका सेवन बेठकर करे. अगर आप एसिडिटी, डायबिटीज, खून की कमी और जोड़ो के दर्द से बचना चाहते है तो आप रोज़ाना सुबह हींग के पानी का सेवन करना शुरू कर दीजिये क्योंकि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते है जो हमारे डाइजेशन सिस्टम को ठीक करते है. सिर्फ इतना ही नहीं हींग का पानी आपकी हड्डियों और दांतों को भी मजबूत बनाता है और यह अस्थमा के रोगियों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है.
(अशोक भाई सिंधी द्वारा लिखित)

प्रातिक्रिया दे