प्राकृतिक चिकित्सा और स्वास्थ

प्रकृति ने हम सभी मनुष्यों के लिए अनमोल रत्न दिये है। जैसे धूप, हवा, मिट्टी, पानी जिसके अभाव में जीवन की कल्पना करना मिथ्या है।…

गहरी बात लिख दी है किसी नें

बेजुबान पत्थर पे लदे है करोडो के गहने मंदिरो में। उसी दहलीज पे एक रूपये को तरसते नन्हे हाथो को देखा है।। सजे थे छप्पन…

भिगोई हुई मूंगफली के फायदे

मूंगफली पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो शारीरिक विकास के लिए बहुत जरूरी है। ऐसे में अगर आप किसी भी कारण से दूध…

विक्रम साराभाई

1970 के समय तिरुवनंतपुरम में समुद्र के पास एक बुजुर्ग भगवद्गीता पढ़ रहे थे तभी एक नास्तिक और होनहार नौजवान उनके पास आकर बैठा। उसने…

रिश्ता – द्वारा मुन्सी प्रेमचंद जी

मुन्सी प्रेमचंद जी की एक सुंदर कविता ख्वाहिश नहीं मुझे मशहूर होने की,         आप मुझे पेहचानते हो        …

रिश्ते

रिश्ते अंकुरित होते हैं प्रेम से जिंदा रहते हैं संवाद से महसूस होते हैं संवेदनाओं से जिये जाते हैं दिल से मुरझा जाते हैं गलतफहमियों…